Health

सचिन के गेंदबाज़ी रिकॉर्ड में बड़े-बड़े गेंदबाज़ भी हैं पीछे , तोडना मुश्किल

सचिन द्वारा बनाये गए कई गेंदबाज़ी रिकॉर्ड आज भी चौंकाने वाले हैं। उनके गेंदबाज़ी रिकॉर्ड को एक मेन बॉलर भी नहीं तोड़ सकता है। आइये इस बारें में विस्तार से जानते हैं।  

सचिन तेंदुलकर का अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में बल्लेबाज़ी रिकॉर्ड तो सबको मालूम है। उनके द्वारा स्थापित किये गए रिकॉर्ड को तोड़ पाना शायद ही किसी बल्लेबाज़ के लिए मुमकिन होगा। सचिन तेंदुलकर गेंदबाज़ी में भी कई रिकॉर्ड बनाये हैं। उनके द्वारा बनाये गए कई गेंदबाज़ी रिकॉर्ड आज भी चौंकाने वाले हैं। उनके गेंदबाज़ी रिकॉर्ड को एक मेन बॉलर भी नहीं तोड़ सकता है। आइये इस बारें में विस्तार से जानते हैं।  

आपको जानकार हैरानी होगी कि तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट में शेन वार्न, कर्टनी वाल्श, इमरान खान, मैल्कम मार्शल, कपिल देव, जहीर खान और कुछ प्रमुख नामों की तुलना में ज्यादा 5 विकेट हॉल्स लिए हैं।  

50-वें ओवर में 2 बार 6 या उससे कम रन डिफेंड करना 

सचिन तेंदुलकर की गेंदबाजी के बारे में एक प्रसिद्ध तथ्य यह है कि यह दिग्गज बल्लेबाज एकदिवसीय क्रिकेट में दो मौकों पर अंतिम ओवर में सफलतापूर्वक 6 या उससे कम रनों का बचाव करने में कामयाब रहा। तेंदुलकर, अब तक एक बार से अधिक एकदिवसीय मैच के 50 वें ओवर में छह या उससे कम रन का बचाव करने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं।

यह भी पढ़ें: IPL के 3 कप्तान जो अपनी टीम को एक भी मैच न जिता पाए

सचिन ने यह उपलब्धि पहली बार दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 1993 के हीरो कप सेमीफाइनल के दौरान हासिल की। भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने मुख्य पेसरों के ओवरों के बचे होने के बावजूद गेंद सचिन को सौंप दी। दिलचस्प बात यह थी कि तेंदुलकर ने अंतिम ओवर तक उस मैच में गेंदबाजी नहीं की थी। सचिन ने अपनी गेंदबाज़ी से भारत को यह मैच 2 रन से जिता दिया। 

इसके अलावा 1996 के टाइटन कप के दौरान, भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेल में ऐसी ही स्थिति में थी। सचिन तेंदुलकर, जो इस बार भारतीय कप्तान थे, ने अंतिम ओवर में गेंदबाजी की भूमिका निभाई। 50-वें ओवर की पहली ही गेंद पर ऑस्ट्रेलिया ने अपना आखिरी विकेट खोया और 5 रन से मैच हार गया।

Sachin Tendulkar

सबसे कम उम्र में 4 विकेट लेना 

इसके अलावा सचिन तेंदुलकर सबसे कम उम्र में वनडे क्रिकेट में भारत की तरफ से 4 विकेट हॉल्स लेने वाले गेंदबाज़ हैं। उन्होंने यह कारनामा वेस्टइंडीज के खिलाफ 18 साल 181 दिन में किया। 

एक ही मैदान पर 2 बार 5 विकेट लेना 

सचिन तेंदुलकर के वनडे क्रिकेट में 5 विकेट लेने का एक दिलचस्प संयोग है। दरअसल सचिन ने एक मैदान पर दो बार 5 विकेट लिए हैं। यह मैदान कोच्चि का नेहरू स्टेडियम है। उन्होंने यह कारनामा ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के खिलाफ किया। सचिन ने अपना पहला 5 विकेट हॉल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यहीं लिया था। 

एशिया में गेंदबाज़ी रिकॉर्ड 

सचिन तेंदुलकर एकदिवसीय क्रिकेट में एशिया में एक भारतीय स्पिनर द्वारा सबसे अधिक 4 विकेट लेने वाले गेंदबाज़ हैं। सचिन ने 6 बार एशिया में वनडे क्रिकेट में 4 विकेट लिए हैं। इसके अलावा भारतीय स्पिनर द्वारा पूरे विश्व में सचिन 4 विकेट हॉल्स लेने के मामलें में तीसरे स्थान पर है।