Health

5 ऐसे खिलाड़ी जो सचिन और उनके बेटे अर्जुन तेंदुलकर के साथ और खिलाफ में क्रिकेट खेल चुके हैं

5 ऐसे खिलाड़ी जो सचिन और उनके बेटे अर्जुन तेंदुलकर के साथ और खिलाफ में खेल चुके हैं। इन 5 में से 4 खिलाड़ियों ने भारत के लिए भी मैच खेला है,

भारतीय क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर ने जो कीर्तिमान क्रिकेट में बनाया है उसे कोई भारतीय बल्लेबाज़ तो क्या दुनिया का कोई बल्लेबाज़ भी नहीं तोड़ पायेगा। वहीं अब सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर ने भी घरेलु क्रिकेट में डेब्यू कर लिया है। अर्जुन ने मुंबई की तरफ से हरियाणा के खिलाफ 2020-21 सैयद मुश्ताक अली ट्राफी के दौरान डेब्यू किया।

डेब्यू मैच में अर्जुन का प्रदर्शन 

अपने डेब्यू मैच में अर्जुन ने 3 ओवर में 34 रन दिए। इस दौरान उन्होंने एक विकेट भी चटकाया। हालांकि उनकी बल्लेबाजी नहीं आ पायी। वह 11 नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे थे। उन्हें एक भी गेंद खेलने का मौका नहीं मिला। क्योंकि जब वह नॉन स्ट्राइक पर थे तभी उनकी टीम आल आउट हो गयी। डेब्यू मैच में अर्जुन तेंदुलकर का प्रदर्शन साधारण रहा।

Arjun Tendulkar

वहीं इस मैच में खेलने वाले 5 ऐसे खिलाड़ी भी थे जो अर्जुन के पिता सचिन के साथ भी खेल चुके थे। आइये जानते हैं कौन है वो 5 खिलाड़ी जो सचिन और उनके बेटे अर्जुन तेंदुलकर के साथ भी खेले हैं। 

Sachin and Arjun Tendulkar

खिलाफ या साथ में सचिन और अर्जुन के साथ खेला 

हालांकि इन पांचो खिलाड़ियों ने कभी भी सचिन के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं खेल पाये। सचिन ने सन्न 2013 में ही संन्यास ले लिया था। उससे पहले घरेलु क्रिकेट के दौरान ये 5 खिलाड़ी सचिन के खिलाफ या साथ में मैदान में खेले थे। और यही खिलाड़ी जब सचिन के बेटे अर्जुन ने घरेलु क्रिकेट में डेब्यू किया तब उनके साथ या खिलाफ खेलें। 

इन पांचो खिलाड़ियों का नाम आदित्य तारे, धवल कुलकर्णी, मोहित शर्मा, युज़ुवेंद्र चहल और जयंत यादव हैं। जयंत यादव, युज़ुवेद्र चहल और मोहित शर्मा हरियाणा की तरफ से खेल रहे थे तो वहीं धवल कुलकर्णी और आदित्य तारे मुंबई की तरफ से खेल रहे थे।

Dhawal Kulkarni, Aditya Tare, Mohit Sharma, Yuzvendra Chahal, Jayant Yadav.

चहल, कुलकर्णी, मोहित शर्मा और जयंत यादव अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट भारत के लिए खेला है लेकिन जब सचिन ने क्रिकेट से सन्यास लिया था तब इन चारों ने अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया। 

सचिन के आखिरी और अर्जुन के पहले घरेलु मैच में धवल कुलकर्णी थे स्ट्राइक पर 

इस दौरान सबसे मजेदार बात यह रही कि जब सचिन अपना अंतिम रणजी मैच खेल रहे थे तो उस दौरान नॉन स्ट्राइक पर धवल कुलकर्णी थे और जब अर्जुन तेंदुलकर क्रीज पर बल्लेबाजी में डेब्यू करने उतरे तो उनके स्ट्राइकर धवल कुलकर्णी थे। इस तरह से धवल कुलकर्णी सचिन के अंतिम रणजी मैच में नॉन स्ट्राइकर और उनके बेटे के डेब्यू मैच में स्ट्राइकर थे। 
  

ऐसी विदेशी टीमें जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में लगातार दो टेस्ट सीरीज में हराया 

भारत एकमात्र ऐसी एशियाई टीम है जिसने ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीती है। लेकिन दुनिया की तीन ऐसी टीमे भी रह चुकी है जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज तो जीता ही है, वो भी लगातार। वहीं साउथ अफ्रीका ऐसी टीम है जिसने ऑस्ट्रेलिया को उसकी धरती पर लगातार तीन बार टेस्ट सीरीज में मात दी है। साउथ अफ्रीका ने यह कारनामा सन्न 2008 से लेकर सन्न 2016 तक लगातार तीन टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में मात दी है। 

यह भी पढ़ें: क्रिकेटर जिसने सोते रहने की वजह से गंवाया देश के लिए टेस्ट मैच में डेब्यू करने का मौका

वहीं वेस्टइंडीज ऐसी टीम है जिसने ऑस्टेलिया को ऑस्ट्रेलिया में लगातार दो टेस्ट सीरीज में मात दी है। यह वह समय हुआ करता था जब वेस्टइंडीज टीम की क्रिकेट में बादशाहत हुई करती थी। वेस्टइंडीज ने यह कारनामा 1984, 1988 और 1992 में किया। जबकि इंग्लैंड ने दो बार ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में लगातार दो बार सीरीज में हराया है। पहली बार  1884, 1887, 1888 में और दूसरी बार 1928, 1932 में।